Category Archives: Sagar

Yeh Jo Deewane Se / Sagar

ये जो दीवाने से दो चार नज़र आते हैं इन में कुछ साहिब-ए-असरार नज़र आते हैं तेरी महफ़िल का भरम रखते हैं सो जाते हैं वरना ये लोग तो बेदार नज़र आते हैं दूर तक कोई सितारा है न कोई … Continue reading

Posted in Sagar | Tagged | Leave a comment